एनिमेशन और मल्टीमीडिया में रोज़गार

एनिमेशन अर्थात सजीवता फोटोग्राफिक दृश्यों की ऐसी रुपरेखा, चित्रांकन, अभिविन्यास और उत्पादन है जिन्हें मल्टीमीडिया उत्पादों को जोरदार रूप-रंग देने के वास्ते समाविष्ट किया जाता है। अन्य शब्दों में एनिमेशन एक ऐसा हस्तकौषल है जिससे स्थिर चित्रों को भी गतिमान दृश्यों के रूप में परिवर्तित किया जा सकता है। कम्प्यूटर प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से एक जैसी स्थिति में क्रमवार लिए गए चित्रों को इस प्रकार तैयार कर दिया जाता है कि वे वास्तविक रूप में गातिशील नजर आएं। मल्टीमीडिया हमें कम्प्यूटर या अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों द्वारा प्रदत्त टेक्स्ट, ग्राफिक आर्ट, ध्वनि, एनिमेशन और वीडियो का ही एक सम्मिश्रण है। तकनीकी रूप से "मल्टीमीडिया'' शब्द का प्रयोग विभिन्न स्रोतों से प्राप्त दृष्य और श्रव्य सामग्री के प्रस्तुतिकरण हेतु सम्मिश्रण के तौर पर किया जा सकता है।



अधिक सुस्पष्ट शब्दों में कहें तो "मल्टीमीडिया'' ऐसे माध्यम या स्वरूप में उपलब्ध सामग्री के सम्मिश्रण के लिए प्रयुक्त होता है जिसे सीडी-रोम सहित कम्प्यूटर या डिजिटल वीडियो, पारस्परिक क्रिया वाले टच-स्क्रीन मॉनीटरों, इंटरनेट या वेब- टेक्नोलॉजी, प्रवाही श्रव्य या दृश्य सामग्री और डॉटा प्रोजेक्शन प्रणाली के जरिए प्रयोग किया जा सकता है। आधुनिक सिनेमा ने मल्टीमीडिया के इस अनुपम उपहार का लाभ उठाते हुए हॉलीवुड और बॉलीवुड ब्लॉकबस्टर्स-जैसे कि जुरासिक पार्क और Bahubali आदि में महान ऊंचाइयों को छू लिया है।


टेलीविजन विज्ञापन, कार्टून सीरियल, प्रस्तुतिकरण तथा मॉडल डिजाइन भी इससे कतई दूर नहीं हैं। संभावनाएं और अवसर वर्ष 2022 तक विश्व एनिमेशन उद्योग का विकास करीब 175 अरब अमरीकी डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है जिसमें इसी अवधि में भारत का हिस्सा 95 करोड़ अमरीकी डॉलर होने की आशा है। इस तरह 2019-2020 में 45% की वार्षिक वद्धि दर दर्ज की जा रही है। अन्य मल्टीमीडिया उत्पादों; जैसे कि गेमिंग का बाजार 2022 तक 130 करोड़ अमरीकी डॉलर तक पहुंचने की आशा है। भारत में करीब 9-10 करोड़ टीवी होम्स, सौ के करीब टेलीविजन चैनल तथा 70,000 से अधिक केबल ऑपरेटर हैं। वे टीवी दर्शकों के वास्ते चौबीसों घण्टे सूचना और मनोरंजन सेवाओं की मांग कर रहे हैं। ये आंकड़े मल्टीमीडिया उद्योग के उदीयमान विकास, उतकृष्ट अवसरों तथा संभावनाओं की तरफ इशारा करते हैं।


मल्टीमीडिया के क्षेत्र के विकास में अगर कोई बाधा है तो वह है कुशल व्यावसायिकों का अभाव। ऐसी आशा है कि अगले कुछ वर्षों में मल्टीमीडिया व्यावसायिकों की आवश्यकता 2 लाख तक पहुंच सकती है। इसके अतिरिक्त सूचना-प्रौद्योगिकी आधारित सेवा क्षेत्र में, जिसमें पारस्परिक क्रियाशील या डिजिटल मल्टीमीडिया, एनिमेशन और गेमिंग शामिल हैं, 2022 तक करीब 50 लाख विशेषज्ञों को रोज़गार प्राप्त होने की आशा है।

अपेक्षित कार्य और कौशल

मल्टीमीडिया व्यावसायिकों के कार्य को, ग्राफिक चित्रों, एनिमेशन, ध्वनि, संगीत, टेक्स्ट और दृश्यों को मनोरंजन, शिक्षा या निर्देशन मीडिया हेतु समेकित मल्टीमीडिया कार्यक्रमों के रूप में उत्पादन तथा हस्तकौशल कहा जा सकता है। मल्टीमीडिया विकास में विभिन्न कौशलों जैसे कि कला, संगीत, शिक्षा और कई अन्य क्षेत्रों का कम्प्यूटिंग और सूचना प्रौद्योगिकी के जरिए सम्मिश्रण करना शामिल है। इस तरह ऐसी कोई एकल पृष्ठभूमि नहीं है जिसे इस व्यवसाय को आदर्श मार्ग के रूप में माना जा सके। लेकिन एनिमेशन, ऑथर बेस्ड प्रोग्रामिंग, कम्प्यूटर आधारित ग्राफिक डिजाइन, डिजिटल ऑडियो-वीडियो मिश्रण तथा संपादन, शैक्षणिक और निर्देशन डिजाइन तथा मल्टीमीडिया प्रोग्रामिंग में एक से अधिक कौशल का ज्ञान होना अनिवार्य है। इसके अलावा सजनषीलता, अग्रणी व्यक्तित्व, लचीलापन, गणितीय और विश्लेषणात्मक कला, मजबूत मौखिक और लिखित संचार कौशल, अन्य व्यक्तियों के साथ अच्छी तरह कार्य करने की योग्यता, नवाचार डिजाइन तथा कलात्मक गुण कुछ ऐसी विशेषताएं हैं, जो काफी लाभदायक हो सकते हैं।



सफल मल्टीमीडिया रोजगार की शुरुआत
मल्टीमीडिया रोजगार शुरू करने से पूर्व इस रोजगार में प्रवेश करते समय व्यावसायिक बनने के वास्ते आपको निम्नलिखित बिंदुओं को ध्यान में रखना चाहिए : 
1) विषिष्टतापूर्ण भाव से विचार करें आप क्या बनना चाहते हैं तथा क्या करना चाहते हैं? ग्राफिकल डिजाइनर, कला निर्देशक, एनिमेटर, वीडियो प्रोड्यूसर, मल्टीमीडिया डिजाइनर, कार्टून या गेम डिजाइनर, सीडी-रोम डेवलपर या प्रस्तुतिकरण कलाकार आदि में से कोई एक व्यावसाय को चुनें। 
2) आपके द्वारा चुने गए क्षेत्र में अपेक्षित कौशल की सूची तैयार करें। 
3) अपेक्षित कौशल को ध्यान में रखते हुए अपने द्वारा चुने गए क्षेत्र में किसी पाठ्यक्रम और/या प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल हों। लेकिन पाठ्यक्रम और/या प्रशिक्षण कार्यक्रम में शामिल होने से पूर्व आपको उपकरण, संकाय तथा संस्थान के प्लेसमेंट रिकॉर्ड के बारे में जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए।
4) कार्यानुभव का पता लगाएं और प्राप्त करें।
5) विभिन्न प्रकार के रोजगारों हेतु अलग-अलग व्यक्तिगत विवरण तैयार करें।
6) आपके पास व्यावसायिक रूप-रंग और अच्छा फ़ोकस्ड तथा परिष्कृत पोर्टफॉलियो हो।

कैसे शुरुआत करें

देश भर में संचालित किए जाने वाले मल्टीमीडिया के बहुत से पाठ्यक्रम हैं। मल्टीमीडिया में डिप्लोमा प्राप्त करने के वास्ते आपने न्यूनतम 45% अंकों के साथ किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड की 12वीं स्तर की परीक्षा उत्तीर्ण की हो। बैचलर डिग्री कार्यक्रम के लिए भी यही मानदण्ड अपेक्षित हैं लेकिन स्नातकोत्तर कार्यक्रम के लिए बैचलर डिग्री होनी चाहिए। मल्टीमीडिया और एनिमेशन रोजगार 1 एनिमेशन 2 ऑथर बेस्ड प्रोग्रामिंग 3 कम्प्यूटर आधारित ग्राफिक डिजाइनिंग 4 डिजिटल दृश्य-ध्वनि संपादन 5 मल्टीमीडिया प्रोग्रामिंग या डिजाइनिंग 6 इंटरफेस डिजाइनिंग 7 अनुदेशन डिजाइनिंग 8 उत्पादन कलाकार 9 वेबसाइट डिजाइनिंग या विकास 10 तकनीकी लेखन

एनिमेशन : यह करिऍर ग्राफिक की दृष्टि से भरपूर और मल्टीमीडिया क्लिपों के डिजाइन, ड्राइंग, लेआउट तथा उत्पादन से संबंधित है। एनिमेटर गेमिंग, अनुदेशन कार्यक्रमों, सीडी-रोम या वेब, क्योस्कों तथा वीडियो के लिए 2डी या 3डी का प्रयोग कर सकते हैं। एनिमेटर एक महान कलाकार हो भी सकता है और नहीं भी। उसकी प्रतिभा 3डी माडलिंग और डिजाइनर्स के स्कैच के तौर पर निहित होती है। मजबूत ड्राइंग कौशल रखने वालों को कथानक कलाकारों के रूप में काम प्राप्त हो सकता है जो कि घटनाक्रम का दृष्टांकन कर सकते हैं।

कम्प्यूटर की मदद से लेजर उपकरणों का प्रयोग करते हुए एनिमेटर कम्प्यूटर में चित्रों को स्कैन करके डिजिटल रूप प्रदान करते हैं। सामान्यतः एनिमेटर को कम्प्यूटर में एक पात्र या लक्ष्य का मॉडल तैयार करना होता है तथा एक वायरफ्रेम मॉडल तैयार करने के वास्ते वक्र रेखाचित्रण तथा आधार तैयार करना होता है जिसके लिए वह अपरिष्कृत वस्तुओं (जैसे कि गोलाकार और घनाकार) का प्रयोग करता है। इसके बाद कंट्रोल्स के जरिए इसे झुकाया और भाव-भंगिमा प्रदान की जाती है। जो व्यक्ति कम्प्यूटर एनीमेशन के क्षेत्र में कार्य करना चाहते हैं उनके लिए फोटोग्राफी, लाइटिंग और मूवमेंट की समझ होना लाभकारी सिद्ध हो सकती है। उनमें किसी वस्तु को इस प्रकार सजीव रूप प्रदान करने की क्षमता होनी चाहिए कि वह तीन आयामों में किस प्रकार दिखाई देगी तथा कोई सजीव चित्रण वास्तविक रूप में किसी प्रकार प्रदर्शित होगा।

3 views0 comments

Sign Up to Our Newsletter

Online Store

Training Course

Video Tutorial

Wedding Video Editing

TV News Editing

Youtube Editing

Social Media

Elearning Video Editing

Photo Editing

Wedding Project

Dongle Data

Edius Project

Premiere Project

Final Cut Pro X Project

After Effect Templates

Video  Effects

Motion Design

Photo Album Templates

About US

About Us

Location

Contact

  • YouTube
  • Facebook
  • Instagram
  • Twitter
download link from google play

© 2021 by Mantra Adcom Pvt. Ltd.

c-111, 2nd Floor, Pandav Nagar Complex, Ganesh Nagar, New Delhi- 110092

email- mantraadcom@gmail.com